Friday, May 20, 2022
Home Tags Religious

Tag: Religious

Panki Temple Photos and Videos

Panki Mandir: ये है कानपुर का प्रसिद्ध पनकी हनुमान मंदिर, आते है लाखों श्रद्धालु

कानपुर का प्रसिद्ध पनकी मंदिर का इतिहास और मंदिर की सम्पूर्ण जानकारी | Panki Temple Photos and Videos यूपी के कानपुर में एक ऐसा मंदिर है, जहां पर जाकर आपके बिगड़े काम बन जाते हैं। पनकी हुनमान मंदिर व श्री पंचमुखी हनुमान कानपुर उत्तर प्रदेश, का ये प्राचीन व प्रसिद्ध मंदिर जो कि बजरंगबली भगवान को पूर्ण रूप से समर्पित है। पनकी हनुमान जी के आर्शिवाद व दर्शन से पूरी होती है मनोकामना
Khatu Shyam, shyam baba hd image

Khatu Shyam: जानिये क्यो कहते है खाटू श्याम को ‘हारे का सहारा’

बिगडी बनाने वाले प्रसिद्ध खाटू श्याम के जीवन की कहानी और भारत में प्रसिद्ध मंदिर श्री खाटू श्याम जी का प्रसिद्ध मंदिर राजस्थान के सीकर जिले में है। खाटू श्याम बाबा के भक्तों की कोई गिनती नहीं है, लेकिन विशेष रूप से वैश्य, मारवाड़ी जैसे व्यापारी वर्ग बड़ी संख्या में हैं। कौन हैं खाटू श्याम बाबा | About Khatu Shyam Baba Ji In Hindi खाटू श्याम जी का असली नाम बर्बरीक है। महाभारत की एक कहानी के अनुसार, बर्बरीक के सिर को राजस्थान राज्य के खाटू शहर में दफनाया गया था।
goddesses of Navratri hd

Gupt Navratri: गुप्त नवरात्री के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | पूजा, उपवास के नियम

इस नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि इसलिए कहते हैं क्योंकि इसमें गुप्त यानी छिपी हुई विद्याओं की साधना की जाती है।
Saphala Ekadashi: जानिए सफला एकादशी का शुभ मुहूर्त, कथा और व्रत के फायदे

Saphala Ekadashi: जानिए सफला एकादशी का शुभ मुहूर्त, कथा और व्रत के फायदे

सफला एकादशी की कहानी, शुभ मुहूर्त, पूजा सामिग्री और व्रत के लाभ इस एकादशी का महत्व और इस दिन किस देवता की पूजा, शुभ मुहूर्त, कथा और व्रत के 5 फायदे सारी जानकारी यहां मिलेगी। पौष मास के कृष्ण पक्ष की सफला एकादशी अपने नाम की तरह ही हर कार्य को सफल बनाने वाली मानी जाती है।
Mokshada Ekadashi hd jpg

Mokshada Ekadashi: मोक्षदा एकादशी का व्रत करने से मिलती है पितरों की मुक्ति, जानिए...

एकादशी मार्गशीर्ष शुक्ल ग्यारस के दिन मोक्षदायिनी एकादशी के रूप में मनाई जाती है। मोक्षदा एकादशी मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी तिथि प्रारंभ, सोमवार 13 दिसम्बर 2021 और मंगलवार, 14 दिसंबर को रात 9.32 बजे घटित होगा, एकादशी तिथि 2021 को रात 11.35 बजे समाप्त होगी। महत्व- इस बार मोक्षदा एकादशी मंगलवार, 14 दिसंबर 2021 को है। यह एकादशी मार्गशीर्ष शुक्ल ग्यारस के दिन मोक्षदायिनी एकादशी के रूप में मनाई जाती है। इस तिथि को एकादशी के नाम से भी जाना जाता है, जो पितरों को मोक्ष दिलाती है।

Recent Posts