Essay on kanpur, kanpur smart city, history of kanpur, selfie point in kanpur, in hindi, kanpur hd images

कानपुर शहर का इतिहास और वर्तमान की पूरी जानकारी हिन्दी मे | Kanpur Smart City

Kanpur Smart City in Hindi | Essay on kanpur Smart City | History of Kanpur City in Hindi

Kanpur शहर को 1803 में 24 March को ईस्ट इंडिया कंपनी ने जिला घोषित किया था। साल 1857 के क्रान्ती में Kanpur (कानपुर) की धरती भी खून से लाल हुई थी। समय बीता और Kanpur (कानपुर) औद्योगिक (Industrial) नगरी के तौर पर विकसित हुआ।

Kanpur (कानपुर) की प्रमुख मिलें

Major mills of Kanpur (Kanpur)

शहर में कई मिलें खुलीं इनमें लाल इमली, म्योर मिल, एल्गिन मिल, Kanpur (कानपुर) कॉटन मिल और अथर्टन मिल फेमस हुईं।

कानपुर है Manchester of the East

यही असर था कि Kanpur (कानपुर) को मिलों की नगरी के नाम से जाने जाना लगा। इतिहास की किताबों में ये Kanpur (कानपुर) ‘मैनचेस्टर ऑफ द ईस्ट’ कहलाया जाने लगा।

Kanpur (कानपुर) शहर की स्थापना सचेंडी के राजा हिन्दू सिंह ने की थी

The city of Kanpur was founded by King Hindu Singh of Sachhendi.

इस कानपुर की स्थापना सचेन्दी State के राजा हिन्दू सिंह ने की थी। Kanpur (कानपुर) का मूल नाम ‘कान्हपुर’ था। शहर की उत्पत्ति का सचेंडी के राजा हिंदू सिंह से, या महाभारत-काल के वीर-कर्ण से संबद्ध होना चाहे संदेहात्मक हो पर इतना प्रमाणित है―

कि अवध के नवाबों में शासनकाल के अंतिम चरण में यह शहर पुराना Kanpur (कानपुर), पटकापुर, कुरसवाँ, जुही तथा सीमामऊ गाँवों के मिलने से बना था।

सबसे पहले अंग्रेजों की ईस्ट इंडिया ने यहां नील का व्यवसाय किया शुरु

First the British East India started the business of indigo here

अंग्रेजों ने यहां उध्योग धंधों को जन्म दिया तथा शहर के विकास का शुरु हुआ। सबसे पहले East India ने यहां नील का व्यवसाय प्रारंभ किया। 1832 में GT Road के बन जाने पर यह शहर इलाहाबाद से जुड़ गया।

आज़ादी के बाद भी Kanpur (कानपुर) ने उन्नति की, यहां IIT, ग्रीन पार्क इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम, ऑर्डनेंस फैक्ट्रियाँ स्थापित हुई। इस सबके बाद Kanpur (कानपुर) दुनियां मे छाने लगा।

कानपुर के विकास में हुई गिरावट

Decline in development of Kanpur

214 साल के लंबे सफर में कहीं Kanpur (कानपुर) की गाड़ी शायद पटरी से उतर गई। सिविल लाइंस स्थित लाल इमली मिल की घड़ी जो लंदन के बिग बेन की तर्ज बनी है

कभी Kanpur (कानपुर) का चेहरा हुआ करती थी। आज घड़ी तो चल रही है पर मिल की मशीनें और लूम शांत पड़ चुकी हैं।

1773 की संधि के बाद यह शहर अंग्रेजों के शासन में आया

The city came under British rule after the Treaty of 1773.

पड़ोस के प्रदेश के साथ इस शहर का शासन भी कन्नौज तथा कालपी के शासकों के हाथों में रहा और बाद में मुसलमान शासकों के। 1773 से 1801 तक अवध के नवाब अलमास अली का यहाँ सुयोग्य शासन रहा।

सन् 1773 की संधि के बाद कानपुर अंग्रेजों के शासन में आया

After the Treaty of 1773, Kanpur came under British rule.

1773 की संधि के बाद यह शहर अंग्रेजों के शासन में आया, फलस्वरूप 1778 ईसवीं में यहाँ अंग्रेज छावनी बनी। गंगा के तट पर स्थित होने के कारण यहाँ यातायात तथा उद्योग धंधों की सुविधा भी थी।

1864 में लखनऊ, कालपी आदि मुख्य स्थानों से सड़कों द्वारा जोड़ दिया गया। ऊपरी गंगा नहर का निर्माण भी हो गया। यातायात के इस विकास से शहर का व्यापार पुन: तेजी से बढ़ा।

कानपुर के दर्शनीय स्थल

Places to visit in Kanpur

  • नानाराव पार्क
  • चिड़ियाघर
  • बिठूर का किला
  • राधा-कृष्ण मन्दिर
  • श्री हनुमान मन्दिर पनकी
  • सिद्धनाथ मन्दिर
  • जाजमऊ आनन्देश्वर मन्दिर परमट
  • जागेश्वर मन्दिर चिड़ियाघर के पास
  • सनातन धर्म मन्दिर
  • कांच का मन्दिर
  • मोतीझील
  • जापानी गार्डन
  • गंगा बैराज
  • सिद्धेश्वर मन्दिर चौबेपुर के पास
  • बिठूर साईं मन्दिर
  • छत्रपति साहूजी महाराज विश्वविद्यालय (पूर्व में Kanpur University),
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान,
  • हरकोर्ट बटलर प्रौद्योगिकी संस्थान (एच.बी.टी.आई.),
  • चन्द्रशेखर आजाद कृषि एवँ प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय,
  • ब्रह्मदेव मंदिर,
  • जेके मंदिर,
  • भीतरगांव का गुप्त मंदिर।

ये हैं Kanpur (कानपुर) की शख्सियत

This is the personality of Kanpur

  • कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव,
  • पॉलिटीशियन और बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी राजीव शुक्ला,
  • गायक अभिजीत भट्टाचार्य,
  • मिमिक्री आर्टिस्ट और अभिनेता ऋषभ शुक्ला,
  • एक्ट्रेस पूनम ढिल्लन, एक्टर कंवलजीत,
  • मशहूर फिल्म डायरेक्टर अश्वनी धीर,
  • कलाकार साधना सिंह,
  • एक्टर रतन राठौर,
  • स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और पत्रकार गणेश शंकर विद्यार्थी,
  • स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और गीतकार हसरत मोहानी,
  • मशहूर थिएटर आर्टिस्ट गुलाब बाई,
  • वरिष्ठ पत्रकार पूर्ण चंद्र,
  • गीतकार गोपाल दास नीरज,
  • कलाकार अरुण बाली,
  • धूम फिल्म सिरीज के डायरेक्टर विजय कृष्ण आचार्य,
  • कॉमेडी एक्टर मनमौजी,
  • सिंगर व रैपर हार्ड कौर, एक्टर अपूर्व अग्निहोत्री, ,
  • कॉमेडियन राजन श्रीवास्तव,
  • एक्ट्रेस कृतिका सेंगर, कोरियोग्राफर अभिषेक अवस्थी,
  • गायक और संगीतकार अंकित तिवारी,
  • कॉमेडियन राजीव निगम,
  • एक्ट्रेस-पॉलिटीशियन और समाजसेवी सुभाषिनी अली,
  • आजाद हिन्द फौज कैप्टन डॉ. लक्ष्मी सहगल, डायरेक्टर शादअली,
  • एक्टर गौरव खन्ना
  • कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी
  • रम्पत नौटंकीवाले….

कानपुर जरुर घूमिऐ…..

Share this information with your friends | Facebook, WhatsApp, Twitter etc.

Posted by: Neelu Gupta

Download links are given below:-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here